भारत की तरह सिंगापुर में भी लॉकडाउन घोषित - 1 महीने के लिए सिर्फ जरूरी सेवाओं को अनुमति

     पूर्वी एशियाई देश सिंगापुर भी अब कोरोना से लड़ाई में भारत की राह पर चल दिया है। कोरोना वायरस के खिलाफ लंबी जंग लड़े रहे सिंगापुर ने 1 महीने के लॉकडाउन की घोषणा की है। यह लॉकडाउन 7 अप्रैल से शुरू होगा। बता दें कि चीन के बाहर कोरोना वायरस से सबसे पहले प्रभावित होने वाले देशों में सिंगापुर भी शामिल था। बता दें कि सिंगापुर में कोरोना वायरस के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं। यहां कारोना पॉजिटिव की संख्या 1114 पहुंच गई है, वहीं 5 लोग इस घातक बीमारी से जान गंवा भी चुके हैं। 24 घंटों में यहां कारोना वायरस के 65 नए मामले सामने आए हैं। 



     सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सिन लूंग ने 1 महीने के लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा कि इस लॉकडाउन में ज्यादातर कार्यालय बंद होंगे। सिर्फ आवश्यक सेवाएं और जरूरी आर्थिक कारोबार जारी रहेंगे। इसके अलावा अन्य सभी सेवाएं पूरी तरह से बंद रहेंगी। कोरोना वायरस के प्रभाव को रोकने के लिए सिंगापुर की सरकार ने यह लॉकडाउन 7 मार्च से लागू करने का फैसला किया है। 


   इस घोषणा के तहत खाद्य भंडार और सुपर मार्केट, क्लीनिक, अस्पताल, आवश्यक वस्तुओं से जुड़ी दुकानें, ट्रांसपोर्ट और प्रमुख बैंकिंग सेवाएं जारी रहेंगी। इसके साथ ही स्कूलों और यूनिवर्सिटी को भी होम बेस्ड लर्निंग के लिए कह दिया गया है। इसके अलावा लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए भी कहा गया है।