तबलीगी जमात की वजह से 4.1 दिन में दोगुने हो रहे कोरोना केस, नहीं तो 7.4 दिन में होते : स्वास्थ्य मंत्रालय

     निजामुद्दीन मरकज में हुए तबलीगी जमात के जलसे की वजह से देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी का सिलसिला जारी है। देश में अब तक 3,374 केस सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अगर तबलीगी की घटना नहीं हुई होती तो 7.4 दिन में केस दोगुने होते जो फिलहाल 4.1 दिन में हो रहे हैं।


     देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी का सिलसिला जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक शनिवार से अब तक देश में कोविड-19 के 472 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 11 लोगों की मौत भी हुई है। अब तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 3,374 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है। इनमें से 267 लोग ठीक भी हो चुके हैं जबकि 79 लोगों की जान जा चुकी है।


...तो आठवें दिन दोगुने होते केस - स्वास्थ्य मंत्रालय में जॉइंट सेक्रटरी लव अग्रवाल ने डेली ब्रीफिंग में बताया कि अब तक देश के 274 जिले कोरोना वायरस से प्रभावित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि तबलीगी जमात का मामला नहीं होता तो भारत में संक्रमण की दर काफी धीमी होती। अग्रवाल ने कहा, 'कोविड-19 के मामले वर्तमान में औसतन 4.1 दिन में दोगुने हो गए हैं, अगर तबलीगी जमात का मामला नहीं होता तो दोगुने होने में औसतन 7.4 दिन का समय लगता।'