युवक ने ट्वीट कर मदद की गुहार लगाई - पुलिस ने 760 किमी दूर बुजुर्ग के लिए पहुंचाई दवाई

     लॉकडाउन में पुलिस रोजाना जरूरतमंद लोगों के लिए मसीहा के तौर पर सामने आ रही है। ऐसा ही मामला मंगलवार को सामने आया जहां नोएडा पुलिस की पीआरवी ने हृदय रोग से पीड़ित बुजुर्ग को दिल्ली से 760 किलोमीटर दूर बहराइच दवा पहुंचाकर मानवता और सेवा की नई मिसाल पेश की है।



     दिल्ली निवासी युवक ने दिल्ली पुलिस को ट्वीट किया था कि उसके दादा बहराइच में रहते हैं। उन्हें दिल की गंभीर बीमारी है। उनका इलाज दिल्ली से चल रहा है और यहां से ही उनकी दवाई जाती है। कई दिन से उनकी दवाई खत्म हो गई है। युवक ने बताया कि लॉकडाउन के कारण वह बहराइच नहीं जा सकते हैं। इस सूचना को संज्ञान मे लेकर डीसीपी साउथ दिल्ली ने दवाई की व्यवस्था कराकर डीसीपी ट्रैफिक गौतमबुद्ध नगर से बात की। वहां से दवाई बहराइच भेजने के लिए नोएडा पहुंचाई गई। बुजुर्ग तक दवा पहुंचाने के लिए 760 किलोमीटर तक पीआरवी जुड़ती चली गईं।


     प्रदेश की छह पीआरवी ने एक दूसरे जुड़कर बुजुर्ग तक दवाई पहुंचाई। नोएडा में दवाई आने के बाद ट्रैफिक इंस्पेक्टर नोएडा ने एंबुलेंस द्वारा दवा लखनऊ भेजते हुए डायल 112 को सूचित किया। सुबह 3 बजे पीआरवी 0476 ने दवा को आलमबाग नहर के पास लिया। सुबह 6:30 बजे बहराइच बॉर्डर पर पीआरवी 1531 द्वारा दवा ली गई। यहां से पीआरवी 1536 थाना नानपारा को मटेरा चौराहे दवा दी गई। पीआरवी 1556 थाना मोतीपुर से दवा को 80 किलो मीटर दूर गांव बेगमपुरा मतेहीकला मे बुजुर्ग को दवाई उपलब्ध कराई।