कोरोना काल में जनता पर जबरन चुनाव थोपा गया - संजय रघुवर

द्वारा - रवि आनंद (वरिष्ठ पत्रकार) 


     गया.  राष्ट्रवादी विकास पार्टी बिहार के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष एवं भारतीय डेमोक्रेटिक एलाइंस के राष्ट्रीय संयोजक संजय रघुवर ने भारतीय डेमोक्रेटिक एलाइंस समर्थित गया विधानसभा क्षेत्र से लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी उम्मीदवार श्याम लेस नारायण के लिए चुनाव प्रचार के दौरान यह बताया कि कोरोना काल में जनता पर जबरन चुनाव थोपा गया है. इस चुनाव में सबको समान शिक्षा - सबको समान स्वास्थ्य सेवा। सब को रोजगार इत्यादि महत्वपूर्ण विषय मुख्यधारा की राजनैतिक पार्टियां मुद्दा नहीं बना पाई है.



     गया का काटन मिल बरसों पूर्व बंद हो गया. इसके अस्तित्व समाप्त हो गए. मानपुर का हैंडलूम उद्योग दम तोड़ चुका। गुरारू का चीनी मिल बरसों से बंद पड़ा है. डालमियानगर का फैक्ट्री बंद है. डालमियानगर एक श्मशान के रूप में परिवर्तित हो गया है. यह दुर्भाग्य है किया चुनावी मुद्दा नहीं बन पाया है. मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने दलों से कार्यकर्ताओं से किनारा कर लिया है. लगभग सभी दलों ने राजनैतिक कार्यकर्ताओं के स्थान पर व्यवसायिक लोगों को और माफियाओं को अपना उम्मीदवार बनाया है. चुनाव में पानी की तरह पैसे बहाये जा रहे हैं. निश्चित रूप से पैसे बहाने वाले उम्मीदवार चुनाव जीतेंगे, तो उनका पूरा का पूरा ऊर्जा अपनी संपत्ति को 10 गुना बढ़ाने में लगेगा। संजय रघुवर ने आम जनता से अपील किया की राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस पार्टी, जनता दल यूनाइटेड, भारतीय जनता पार्टी, लोक जनशक्ति पार्टी के उम्मीदवारों से अपने क्षेत्र के बंद उद्योग धंधे के बारे में सवाल करें। उन्होंने अभी कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र की मुनाफा कमाने वाली कंपनियों को औने पौने दाम पर केंद्र की सरकार के द्वारा निजी कंपनियों के हाथों बिक्री कर दिया है. जिसे मुख्यधारा की विपक्षी पार्टियों ने इस चुनाव में मुद्दा नहीं बनाया है.


     संजय रघुवर ने यह भी बताया की वैकल्पिक राजनीति को मजबूती प्रदान करने के लिए लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी बिहार प्रदेश शाखा का राष्ट्रवादी विकास पार्टी में विलय कर दिया गया है. राष्ट्रवादी विकास पार्टी एक धर्मनिरपेक्ष समाजवादी विचारों पर चलने वाली पार्टी है. जिस के राष्ट्रीय अध्यक्ष भारत सरकार के पूर्व प्रधान आयकर आयुक्त आईआरएस अधिकारी डॉ अनूप श्रीवास्तव एवं भारतीय सेना के उच्च अधिकारी रहे ब्रिगेडियर अनिल श्रीवास्तव प्रधान महासचिव हैं. जो स्वतंत्रता संग्राम के महान सेनानियों तथा समाजवादी आंदोलन के संस्थापक नेताओं के सपनों को पूरा करने का संकल्प लिया है. इन्होंने यह भी बताया की बिहार - झारखंड में पार्टी को सशक्त करने के लिए कुमार सुशील क्रांतिकारी को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है.


     इसी तरह से सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता रहे इंजीनियर मनोज कुमार को आईटी सेल का अध्यक्ष बनाते हुए प्रदेश पार्टी में पूर्व की तरह रखा गया है। इसी तरह से समाज के सभी जाति धर्म के लोगों को कानूनी सुविधा उपलब्ध कराने के लिए विधि प्रकोष्ठ का गठन किया गया है. जिसका अध्यक्ष माननीय उच्च न्यायालय में वरिष्ठ अधिवक्ता एवं बिहार के जाने-माने स्वतंत्रता सेनानी रहे पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय महामाया प्रसाद सिन्हा के निकटतम सहयोगी अरविंद कुमार वर्मा को अध्यक्ष बनाया गया है. सुबोध कुमार सिन्हा, सुधीर कुमार सिन्हा रेलवे से अवकाश प्राप्त वरिष्ठ इंजीनियर रहे मनोज प्रसाद इत्यादि को पूर्व की पार्टी की तरह राष्ट्रवादी विकास पार्टी में भी उसी पद पर रखा गया है. 10 नवंबर के बाद पार्टी की बैठक होगी जिसमें पार्टी का विस्तार एवं राज्य स्तर का एक दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन पटना में कराने का विचार किया गया है.