बाबा हो बिटिया न जनिहा, बिटिया हई अँखिया के पुतरी

News from - Arvind Chitransh

     आजमगढ़। अंतरराष्ट्रीय भोजपुरी संगम भारत के प्रधान कार्यालय कोलघाट, आजमगढ़ में अरविंद चित्रांश द्वारा लिखित-निर्देशित पूर्वांचल का प्रसिद्ध लोकनाट्य "बिटिया की विदाई" का प्रोत्साहन करते हुए महुआ टी.वी. सुर संग्राम के विजेता, अंतरराष्ट्रीय लोकगायक वीरेंद्र भारती ने आजमगढ़ के प्रख्यात कवि साहित्यकार स्व.निर्मोही की अद्भुत रचना गाकर भाव विभोर कर दिया।  

     अरविंद चित्रांश के निवास पर "बिटिया की विदाई"के प्रोत्साहन समारोह में लोकगायक वीरेंद्र भारती के साथ प्रमुख समाजसेवी एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सिद्धार्थ राम सिंह, अजमतगढ़ के पूर्व चेयरमैन, गोरखपुर प्रांत के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष भाजपा अरविंद जायसवाल, फिल्म अभिनेता ध्रुव मिश्रा, गायक हिमांशु मिश्रा, बजरंगी प्रसाद


गुप्ता, सभासद नगर पंचायत अजमतगढ़, संयोजक सैनिक प्रकोष्ठ आजमगढ़ राधेश्याम कनौजिया आदि कई महत्वपूर्ण लोग उपस्थित रहे.
लोकगायक वीरेंद्र भारती के साथ एक संक्षिप्त साक्षातकार भी जारी किया गया -





Popular posts
2,362 करोड़ का ड्रग्स जला देना, अवैध तस्करी के खिलाफ हमारी शीर्ष प्राथमिकता - देवेश चंद्र श्रीवास्तव (DGP, मिजोरम)
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी द्वारा रीजनल कॉलेज फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय कांफ्रेंस से देश में नए इलेक्ट्रॉनिक युग का प्रारंभ होगा - डॉ बी .डी. कल्ला
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
हर किसान का यही पैगाम, खेत को पानी, फसल को दाम - रामपाल जाट
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image