दिल्ली के कापसहेड़ा में एक ही बिल्डिंग में 41 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव - सघन आबादी की वजह से बढ़ी चिंता

     दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके में एक ही बिल्डिंग के 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 18 अप्रैल को इस इमारत में पहला केस सामने आया था। इसके बाद इस बिल्डिंग को सील कर दिया गया। सभी लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। आज रिपोर्ट आई तो 41 लोग कोरोना संक्रमित मिले। हरियाणा से सटा दिल्ली का कापसहेड़ा काफी सघन इलाका है। इस इमारत में कुल 175 कमरे हैं।



     कापसहेड़ा में डीसी ऑफिस के पास ठेके वाली गली में सोनू यादव का मकान है। इसमें 18 अप्रैल को एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया। इलाके में सघन आबादी को देखते हुए प्रशासन ने इस बिल्डिंग को अगले ही दिन यानी 19 अप्रैल को सील कर दिया। हालांकि, गाइडलाइंस के मुताबिक किसी इलाके को सील तब किया जाता है जब वहां 3 से अधिक केस मिल जाएं,  लेकिन यहां की आबादी को ध्यान में रखकर प्रशासन ने एक केस मिलने के बाद ही इमारत को सील कर दिया था।


     इमारत में रहने वाले सभी लोगों का सैंपल लिया गया और एनआईबी नोएडा में जांच के लिए भेजा गया। इमारत से लिए गए सैंपल में से कुछ की रिपोर्ट शनिवार को आई तो 41 लोग संक्रमित मिले हैं।


सघन बस्ती है कापसहेड़ा - कापसहेड़ा की आबादी 1.25 लाख से अधिक बताई जाती है। यहां बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरी और दिल्ली और गुड़गांव की फैक्ट्रियों में काम करने वाले मजदूर रहते हैं। संकरी गलियों में एक दूसरे से सटे हुए मकान और हर मकान के एक-एक कमरे में कई-कई लोग रहते हैं। यहां की सघन आबादी को देखते हुए प्रशासन की चिंता बढ़ गई है।


Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image