सीएम योगी ने कहा योग को बनाएंं जीवन का हिस्‍सा, नए परिवेश में खुद को ढालें

                                                International Yoga Day 2020 


     सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लोगों से योग को अपने जीवन का हिस्‍सा बनाने की अपील की। उन्‍होंने कहा कि स्‍वयं को नए परिवेश के अनुरूप ढालना समय की मांग है। आज यदि कोई डिजिटल प्‍लेटफार्म से परहेज करता है तो वह प्रतिस्‍पर्धा में पिछड़ जाएगा। 



     मुख्‍यमंत्री,अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्‍या पर महायोगी गोरक्षनाथ योग संस्‍थान, गोरखनाथ मंदिर और महराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संयुक्‍त तत्‍वावधान में आयोजित शैक्षिक कार्यशाला में प्रतिभागियों को सम्‍बोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कार्यशाला में जुड़ें शिक्षकों से आह्वान किया कि कोरोना के चलते उत्‍पन्‍न हुईं परिस्थितियों के मुताबिक पठन-पाठन के लिए डिजिटल प्‍लेटफार्म बनाएं। ज्‍यादा से ज्‍यादा विद्यार्थियों के साथ डिजिटल प्‍लेटफार्म पर संवाद स्‍थापित करें। उन्‍होंने कहा कि जुलाई में जब शिक्षण और प्रशिक्षण संस्‍थान खुलेंगे तब भी कोरोना से बचाव के लिए सावधानियों को बड़ी सतर्कता से अपनाना होगा।


     जीवन में योग की महत्‍ता बताते हुए उन्‍होंने कहा कहा कि योग को आत्‍मसात करने से व्‍यक्ति सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करता है। यह विश्‍व को भारत की अमूल्‍य देन है। हर वर्ष अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के मौके पर गोरखपुर में साप्ताहिक योग शिविर और शैक्षिक कार्यशाला का आयोजन होता है। उन्होंने कहा कि इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम 'योग एट होम' (घर पर योग), परिवार के साथ योग की संकल्पना के साथ सम्पन्न किया जा रहा है। प्रदेश में यह कार्यक्रम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर संदेश तथा केंद्र सरकार के सामान्य योग प्रोटोकाल को सम्मिलित करते हुए आयोजित किया जा रहा है।