US की पहली हिन्दू सांसद बोलीं- मुश्किल वक्त में गीता से मिलती है शांति-ताकत

     अमेरिका की पहली हिन्दू सांसद तुलसी गबार्ड ने कहा है कि मुश्किल वक्त में इंसान भगवत गीता से निश्चित तौर पर शांति और ताकत हासिल कर सकता है. पीटीआई के मुताबिक, 'हिन्दू छात्रों के लिए 2020 की क्लास' नाम के एक वर्चुअल कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए तुलसी ने ये बात कही.


     अमेरिका के हवाई से सांसद तुलसी गबार्ड ने कहा कि इस वक्त अव्यवस्था का माहौल है. कोई निश्चित तौर से नहीं कह सकता कि कल का दिन कैसा रहेगा. लेकिन भगवत गीता के जरिए कृष्ण के भक्ती योग और कर्म योग की प्रैक्टिस से हम शांति और ताकत पा सकते हैं. 



     तुलसी गबार्ड ने ये बात ऐसी वक्त में कही है जब अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड के पक्ष में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हो रहे हैं. साथ ही अमेरिका सहित कई देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं. हिन्दू स्टूडेंट्स काउंसिल की ओर से वर्चुअल कार्यक्रम आयोजित किया गया था. फेसबुक और यूट्यूब लाइव के जरिए हजारों लोगों ने इसमें हिस्सा लिया था. कार्यक्रम में अमेरिका, कनाडा, भारत और ऑस्ट्रेलिया के सैकड़ों ग्रेजुएट हो रहे युवाओं ने हिस्सा लिया. कार्यक्रम में युवाओं ने खुद के हिन्दू मूल्यों को सेलिब्रेट किया.


     तुलसी गबार्ड ने युवाओं से कहा- 'अपनी जिंदगी में जब आप नया चैप्टर शुरू करने जा रहे हैं, खुद से पूछिए कि आपकी जिंदगी का मकसद क्या है? अगर आप ये समझ पाते हैं कि आपकी जिंदगी का मकसद भगवान और भगवान के बच्चे की सेवा करना है, तो आप एक सफल जिंदगी जी सकते हैं.'


 











      •