पत्नी के प्रेमी ने की बेटी की हत्या, सदमे में पिता ने दे दी जान

     हैदराबाद में एक पिता अपनी पांच वर्षीय बेटी की हत्या के सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाया और ट्रेन के आगे आकर जान दे दी. एस कल्याण राव ने कथित तौर पर ट्रेन से कटकर इसलिए जान दे दी क्योंकि 2 जुलाई को उनकी पांच साल की बेटी की हत्या हो गई थी. जिस बच्ची की वजह से पिता ने अपनी जान दे दी उसका नाम अधिया बताया जा रहा है. 1 अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक घटना को लेकर भोंगीर के रेलवे पुलिस इंस्पेक्टर एस कांता राव ने कहा कि ग्रामीणों ने कल्याण के शव को पटरियों पर पड़ा देखा और भोंगीर स्टेशन मास्टर को इसकी जानकारी दे दी.



     अधिया की मौत के बाद, कल्याण राव ने घाटकेसर छोड़ दिया और भोंगीर शहर में अपने भाइयों के साथ रहने लगे. वो बेहद परेशान थे और अचानक शांत रहने लगे थे. शनिवार की सुबह कल्याण 9.30 के करीब अपने घर से निकले और कुछ घंटों बाद, उनके भाइयों को आसपास के निवासियों से पटरियों पर एक शव पड़े होने की जानकारी मिली. वे मौके पर पहुंचे तो देखा कि कल्याण पटरियों पर मृत पड़े थे. भोंगीर जिले में ग्राम राजस्व अधिकारी (VRO) के रूप में काम करने वाले 37 वर्षीय कल्याण, अपनी पत्नी अनुषा और बेटी के साथ घाटकेसर में ट्रांसफर होने के बाद रहने गए थे. रिपोर्ट के मुताबिक वहां उनकी पत्नी अनुषा की मुलाकात करुणाकर नाम के शख्स से हुई जिसके बाद दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे.


     करुणाकर ने अपने मित्र राजशेखर को अनुषा से मिलवाया. इसके बाद अनुषा, करुणाकर से मिलने से बचने लगी. इस बात को लेकर कथित तौर पर करुणाकर ने राजशेखर को मारने की साजिश रची. दो जुलाई को वो दो सर्जिकल ब्लेड लेकर अनुषा के घर पहुंचा. करुणाकर को देखकर, राजशेखर छिप गया. क्रोधित होकर, करुणाकर ने सर्जिकल चाकू से अनुषा की बेटी अधिया का गला काट दिया और आत्महत्या के इरादे से खुद को भी घायल कर लिया. अस्पताल ले जाने के दौरान अधिया की मौत हो गई और करुणाकर को उस्मानिया अस्पताल में भर्ती कराया गया. करुणाकर के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया और उसे 7 जुलाई को अस्पताल से छुट्टी देने के बाद गिरफ्तार किया गया.


Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image