पीएम और कोरोना के नाम पर देशभर में करोड़ों रुपए की ठगी- पर्दाफाश साइबर क्राइम ब्रांच

     भोपाल की साइबर क्राइम ब्रांच की टीम को एक बड़ी सफलता हासिल हुई है। साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने प्रधानमंत्री लोन व कोविड-19 ने नाम पर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय शातिर ठगों के एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। जानकारी के अनुसार इस गिरोह के 6 सदस्य अब तक देशभर में 661 लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी कर चुके हैं। एडीजी उपेंद्र जैन ने जानकारी देते हुए बताया की अरोपी समाचार पत्रों व व्हाट्सएप के माध्यम से सस्ता और आसान किस्तों पर लोन के लिए विज्ञापन मैसेज करते थे, जिनमें आरोपियों का मोबाइल नंबर होता था।



     फोन पर ही लोन की प्रोसेसिंग फीस, लोन के लिए बीमा आदि के बहाने पैसा फर्जी नाम पर खोले गए खातों में जमा करवा देते थे। आरोपी उस पैसे को एक बार फिर दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर देते थे, जिसके बाद अंत में वह पैसा एटीएम के माध्यम से निकाला जाता था। उन्होंने बताया कि आरोपी द्वारा फर्जी अकाउंट खोलने व सिम लेने लिए जो दस्तावेज प्रयोग किेए जाते थे, उन दस्तावेजों को भी आरोपी किसी दूसरे पीड़ित से भरवाता था।


     पुलिस को आरोपियों के पास से एक डायरी में 661 लोगों से करोड़ों रुपए ठगने की जानकारी मिली है। भोपाल में कंपनी कमाण्डेन्ट को लोन देने के नाम पर ठगने के बाद इस गिरोह का खुलासा हुआ है। साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने इस ठगी के खेल में आरोपी सुरेश राजपूत नि. बजाज नगर वार्ड नं थाना कोतवाली श्योपुर निवासी, बृजलाल नि. किसकी ग्राम थाना मानपुर श्योपुर, वृजेश कुमार नि. बनदिया थाथा डोडर श्योपुर, पंकज कुशवाह नि. गाजीपुर थाना सदर गाजीपुर, संजय राजपूत निं. भिलावारी वीरसुर जिला श्योपुर को हिरासत में लिया है। फिलहाल सभी गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ जारी है।


Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image