बिहार में NDA के पक्ष में जबर्दस्त हवा बह रही है, राहुल को कोई गंभीरता से नहीं लेता - रविशंकर प्रसाद

द्वारा - रवि आनंद


एनडीए निर्णायक बहुमत की ओर बढ़ रहा है- रविशंकर प्रसाद


पूरा देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्मान करता है- रविशंकर प्रसाद


राहुल गांधी के बयान में हताशा और निराशा साफ झलकती है- रविशंकर प्रसाद


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध- रविशंकर प्रसाद


     पटना.  प्रथम चरण के मतदान का उत्साह, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में उमड़ी भीड़, नीतीश के लिए प्रधानमंत्री का प्रमाणिकता के साथ यह घोषित करना कि नीतीश ही दोबारा मुख्यमंत्री बनेंगे, यह एनडीए की चट्टानी एकता दिखाता है और एनडीए निर्णायक बहुमत की ओर बढ़ रहा है। बिहार में एनडीए की जबरदस्त हवा बह रही है। केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी और विधि एवं न्‍याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ये बातें भाजपा के मीडिया सेंटर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। 


     उन्होंने कहा कि कोरोना काल में मतदान एक बहुत ही चुनौती भरा कार्य था। सभी लोग आशंकित थे लेकिन बिहार के मतदाता बड़ी संख्या में मतदान करने निकले और जिस तरह से पहले चरण का मतदान शांतिपूर्ण तरीके से  संपन्न हुआ उसने बिहार की लोकतांत्रिक छवि को और भी मजबूत किया है। खासकर महिलाओं ने इस मतदान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। यह बहुत ही प्रमाणिक और उत्साहवर्द्धक है। यह इस बात का संकेत है कि बिहार की जनता शांति और विकास चाहती है। बिहार की जनता स्थायित्व चाहती है। बिहार के मतदाता चाहे वो शहरी विधानसभा के हों या फिर ग्रामीण विधानसभा के कोरोना की तमाम आशंकाओं को उन्होंने निर्मूल कर दिया है। इससे साबित होता है कि उन्हें अपनी सेहत की भी चिंता है तथा अपने प्रदेश की भी। रविशंकर प्रसाद ने पहले चरण के शांतिपूर्ण मतदान के लिए चुनाव आयोग का भी धन्यवाद किया। 



     रविशंकर प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री की तीनों सभाओं में जबरदस्त भीड़ और उस भीड़ में काफी उत्साह था। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण से यह बात स्पष्ट कर दी है कि वे कितनी ईमानदारी से बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं। उनका मानना है कि अगर पूर्वी भारत का विकास नहीं होगा तो भारत का विकास नहीं होगा खासकर पूर्वी भारत में जब तक बिहार का विकास नहीं होगा तब तक देश का प्रमाणिक विकास नहीं होगा। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में किसान कल्याण, आशा दीदी का विकास, जीविका समूह का विकास हो या फिर बिहार को डिजिटल इकोसिस्टम या आईटी हब बनाने की बात की, यह बिहार के विकास के प्रति उनकी सोच है। 


     उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों में उत्साह है। हर गांव में सड़क एवं बिजली पहुंची है लोग इसे महसूस करते हैं। पहले पूर्णिया से पटना आने में 11-12 घंटे लग जाते थे लेकिन अब सिर्फ 4-5 घंटे में संभव हो सका है। विकास के इस आयाम को लोग महसूस करते हैं। बिहार के नौजवानों से जब पूछता हूं कि लालू जी के राज में ऐसे ही स्मार्ट फोन लेकर घूम सकते थे क्या तो उनका जवाब रहता है कि नहीं तब छिन लिया जाता।


     कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर की गई टिप्पणी को लेकर उन्होंने पलटवार करते हुए कहा कि पूरा देश प्रधानमंत्री का सम्मान करता है, बिहार के लोग उनका सम्मान करते हैं लेकिन एक प्रयोजित रावण वध पर राहुल टिप्पणी कर रहे हैं इससे पता चलता है कि राहुल गांधी का स्तर क्या रह गया है ? राहुल गांधी की राजनीतिक हैसियत शायद अब इतनी भी नहीं बची है कि वो हर रोज कुछ न कुछ उलुल-जुलूल बोलते हैं लेकिन कोई उनका पूतला जलाने की भी नहीं सोचता क्योंकि लोग राहुल को गंभीरता से नहीं लेते। राहुल गांधी कांग्रेस जैसी पुरानी पार्टी जिसने देश पर 58 सालों तक शासन किया है उसके अध्यक्ष रहे हैं लेकिन उनका स्तर कैसा है यह इस बात को दर्शाता है कि कांग्रेस और राहुल गांधी कितने हताश है और निराश हैं।


     मुंगेर की घटना पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है इससे सबको पीड़ा हुई है, पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। जंगलराज पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि 2005 में स्वर्गीय प्रमोद महाजन के साथ चुनाव प्रचार के दौरान उन पर हमला हुआ था और उन्हें गोली लगी थी लेकिन पुलिस ने ढाई महीने तक उनका और ना ही स्वर्गीय प्रमोद महाजन बयान तक दर्ज किया, जब नीतीश कुमार सत्ता में आए तब जाकर उनका बयान दर्ज किया गया। उस समय में जब एक केंद्रीय मंत्री की स्थिति ऐसी थी तो आम आदमी के साथ क्या होता होगा यह बताने की जरुरत नहीं है ! इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी संजय मयूख, प्रदेश प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, प्रदेश मीडिया प्रभारी राकेश कुमार सिंह व राजेश झा राजू मौजूद रहे।