जिन्हें कुछ नहीं पता वो बेवजह बातें करते हैं - सीएम नितीश, NDA गठबंधन अटूट है और रहेगा - डॉ.संजय जायसवाल

भाजपा, जदयू, हम और वीआईपी पार्टी ही एनडीए का हिस्सा - सुशील मोदी


एनडीए तीन चौथाई बहुमत के साथ चुनाव जीतेगी- भूपेंद्र यादव


     मीडिया सेंटर, पटना, नीतीश कुमार के नेतृत्व में भाजपा बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ने जा रही है। भाजपा 121, जनता दल (यू) 122 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। भाजपा अपने हिस्से से विकासशील इंसान पार्टी को सीटें देगी, तो जदयू अपने खाते से एनडीए के ही एक और सहयोगी हिंदुस्तान आवाम मोर्चा को सीटें देगी। प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने साफ-साफ कह दिया कि बिहार के विकास के लिए भाजपा-जदयू साथ मिलकर काम कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे। नीतीश कुमार ने विपक्ष पर करारा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि 2005 से पहले बिहार की क्या स्थिति थी, हत्याएं होती थी, सामूहिक नरसंहार होते थे, दंगे होते थे, न सड़क थी न स्कूल थे, न कॉलेज ? उन्होंने कहा कि 2005 के बाद से बिहार की स्थिति बदली है और शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में बिहार आगे बढ़ रहा है, हमने न्याय के साथ विकास किया है। बजट जो पहले 24 हजार करोड़ रुपए हुआ करता था उसे बढ़ाकर 2 लाख करोड़ तक पहुंचा दिया।



     नीतीश ने कहा कि कोरोना काल में भी बिहार ने पूरे देश में एक उदाहरण पेश किया है, चाहे वो जांच का मामला हो या फिर लोगों की मदद करने का। उन्होंने कहा कि हमने कोरोना काल में बिहार से बाहर रहने वाले लोगों की मदद की है। बिहार से बाहर रहने वाले 21 लाख लोगों को 1-1 हजार की सहायता राशि दी गई है। बाहर से आने वाले लोगों के रहने के लिए क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्था की गई। हमने सिर्फ काम किया है और काम करेंगे और काम के साथ ही लोगों के बीच जाएंगे। नितीश कुमार  ने स्पष्ट रूप से कह दिया कि गठबंधन को लेकर कोई ग़लतफहमी नहीं है, हमने साथ में काम किया है और आगे भी साथ में काम करेंगे। बिहार को आगे बढ़ाना है और सक्षम बिहार बनाएंगे।


     वहीं प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का जदयू के साथ अटूट गठबंधन है। बिहार में एनडीए के नेता नीतीश कुमार ही हैं। उन्होंने कहा कि नितीश कुमार एक बार फिर तीन चौथाई बहुमत के साथ बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे। गठबंधन पर उठ रहे सवालों का जवाब देते हुए कहा कि गठबंधन में वहीं रहेंगे जो नीतीश कुमार के नेतृत्व को स्वीकार करते हैं। इसको लेकर कोई भ्रम नहीं है. 


     बिहार चुनाव प्रभारी भूपेंद्र यादव ने भी संबोधित करते हुए कहा कि अगर कोई भी व्यक्ति भाजपा के सिंबल के खिलाफ कहीं भी चुनाव लड़ता है तो भारतीय जनता पार्टी के संविधान में व्यवस्था है कि वो पार्टी का सदस्य नहीं रह जाता। 


     सुशील कुमार मोदी ने कहा कि भाजपा-जदयू का गठबंधन को लेकर कोई कंफ्यूजन नहीं है। हम कई वर्षों से साथ हैं और भाजपा-जदयू-हम-वीआईपी पार्टी ही एनडीए का हिस्सा हैं. भाजपा-जदयू-हम, वीआईपी के अलावा कोई भी पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फोटो का इस्तेमाल करता है तो हम चुनाव आयोग में इसकी शिकायत करेंगे। इस अवसर पर मंच पर जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी, जदयू के राष्ट्रीय महासचिव एवं राज्य सभा सांसद आरसीपी सिंह, बिहार सरकार में मंत्री विजेंद्र यादव, सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ लल्लन सिंह, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस एवं बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं बिहार सरकार के मंत्री प्रेम कुमार मंच पर उपस्थित थे.


द्वारा -- रवि आनंद (वरिष्ठ पत्रकार)