व्यवस्था परिवर्तन के लिए लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी एवं राष्ट्रवादी विकास पार्टी ने मिलकर बेहतर प्रयास किया - सुबोध कुमार सिन्हा

द्वारा - रवि आनंद (वरिष्ठ पत्रकार) पटना 


     लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी बिहार के प्रदेश सचिव एवं मुख्य प्रवक्ता सुबोध कुमार सिन्हा ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहां है की वैकल्पिक राजनीति के लिए एवं सड़क पर संघर्ष की राजनीति को फिर से जीवित करने के उद्देश्य से बिहार में लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी एवं राष्ट्रवादी विकास पार्टी, गायक संयुक्त मोर्चा संजय रघुवर के नेतृत्व में गठित किया गया है. जिसके अंतर्गत उक्त दोनों दल के उम्मीदवार संयुक्त रुप से होंगे तथा दोनों का प्रचार प्रसार संयुक्त रूप से होगा। सुबोध कुमार ने यह अवगत कराया की उक्त मोर्चे की ओर से लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी के श्याम लेस नारायण 230 गया विधानसभा क्षेत्र से तथा 220 ओबरा विधानसभा क्षेत्र से सिकंदर कुमार पंडित दूसरे कई विधानसभा क्षेत्र नबीनगर से मनोज प्रजापति 235 रजौली विधानसभा क्षेत्र आरक्षित से विश्वनाथ ताती ने निर्वाचन पदाधिकारी के समक्ष नामांकन पत्र दाखिल किया है.



     वहीं दूसरी ओर राष्ट्रवादी विकास पार्टी की ओर से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में दिव्यांशु कुमार यादव ने मुंगेर विधानसभा क्षेत्र से तथा श्रीमती श्वेता यादव ने जमालपुर विधानसभा क्षेत्र से नामांकन पत्र दाखिल किया है. मुख्य प्रवक्ता सुबोध कुमार सिन्हा ने यह अवगत कराया है संजय रघुवर ने कहां है इस विधानसभा चुनाव के बाद इस मोर्चे की बिहार की राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका होगी। क्योंकि यह मोर्चा जनता के प्रश्न पर एवं देश के ज्वलंत समस्याओं पर तथा स्थानीय समस्याओं के निष्पादन हेतु लगातार जंन-संघर्ष के कार्यक्रम चलाएगा तथा इस चुनाव में जनता के समक्ष वैकल्पिक राजनीति के लिए मतदाताओं से मतदान करने का अनुरोध करेगा।


     सुबोध कुमार सिन्हा ने यह भी कहा कि जिन जिन स्थानों पर फैक्ट्री चल रही थी जो बरसों से बंद है वहां की जनता से भारतीय जनता पार्टी, जनता दल यूनाइटेड, कांग्रेस पार्टी तथा राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवारों से प्रश्न करने का अनुरोध करेगी कि आजादी के बाद से लेकर आज तक जिन तमाम दलों ने राज्य एवं केंद्र में हुकूमत की है, उनसे यह सवाल किया जाना चाहिए कि आखिर बिहार से पलायन कब रुकेगा? बाढ़ से कब मुक्ति मिलेगी? लोगों को सम्मान की जिंदगी जीने का अपने ही राज्य में रोजगार सहित अवसर कब प्राप्त होगा ? इस संबंध में आम जनता के द्वारा स्थापित दलों से प्रश्न करने के लिए एक प्रश्नावली तैयार किया जा रहा है. जो बिहार के सभी जिलों में भेजा जाएगा।


     विज्ञप्ति में यह भी कहा गया है कि -  व्यवस्था परिवर्तन के लिए एवं नई राजनीति की शुरुआत करने की दिशा में लोकतांत्रिक जनशक्ति पार्टी एवं राष्ट्रवादी विकास पार्टी ने आपस में मिलकर एक बेहतर प्रयास किया है ताकि लोकतंत्र जीवित रह सके.  आज लोकतंत्र खतरे में है तमाम स्थापित दल कारपोरेट घराने के पैसे से चल रहे हैं, जिनके द्वारा आम जन की अनदेखी की जा रही है. वहीं दूसरी ओर सार्वजनिक क्षेत्र की मुनाफा कमाने वाली कंपनियों को ओने पौने दाम पर केंद्र की सरकार के द्वारा बिक्री कर दिया गया है और करने की तैयारी चल रही है. यहां तक कि रेलवे को भी बिक्री कर दिया गया है. यह भी इन्होंने कहा कि सब को निशुल्क स्वास्थ्य सुविधा, सब को निशुल्क शिक्षा प्राप्त हो और अधिकार को मौलिक अधिकार में शामिल किया जाए. यह सब मुद्दे उक्त मोर्चे के होंगे। इन्हीं सब सवालों पर जनता के बीच जनता के संसाधन से उम्मीदवार खड़े  किए जा रहे हैं. यह प्रयोग किया जा रहा है कि बिना पैसा के आज के परिवेश में चुनाव लड़े जा सकते हैं और सफलता पाई जा सकती है. यह सब प्रयास जनता में नई जागृति लाने का काम किया जा रहा है.