Indian speed post की बंद पार्सल से 40 हज़ार का सामान चोरी

INDIAN  SPEED  POST से करी तौबा  

      बंगलौर। जनता एक विश्वास के साथ भारतीय डाक सेवा का उपयोग करती है कि उसका सामान सुरक्षित, निश्चित समय पर प्राप्त करता तक पहुँच जायेगा परन्तु जब बंद पार्सल मे से ही सामान गायब हो जाये और शिकायतकर्ता को जिम्मेदार अधिकारी कहें कि यह हमारी जिम्मेदारी नहीं है तो उस पर क्या गुजरेगी? इस बात का अंदाजा एक भुगत भोगी ही जानता है.  

     ऐसा ही एक वाक्या राजस्थान के झुंझुनू ज़िले की चिड़ावा की रहने वाली नीलम भगासरा के साथ हुआ. चिड़ावा में पीहर आई हुई नीलम भगासरा ने बंगलौर (पति के पास) की फ्लाइट पकड़ने से पहले इंडियन स्पीड पोस्ट से एक पार्सल में सामान बुक किया। जिसमे उन्होंने अपने  परिवार, बच्चों के नये - नये कपडे व् अन्य सामान रखा और बहुत ही अच्छे तरीके से एक कार्टन में पैक करके बंगलौर के लिए भेजा. इस विश्वाश के साथ कि अब यह सामान सुरक्षित रूप से पहुँच जायेगा. 

    नीलम भगासरा ने बंगलौर पहुँच कर जब पार्सल प्राप्त किया तो इंडियन स्पीड पोस्ट को धन्यवाद किया परन्तु जब पार्सल खोला तो कुछ ही देर मै उनको मालूम चला कि उनके साथ धोखा हुआ है. जितना सामान उन्होंने रखा था, उसमे बहुत सा सामान (कपड़े) गायब हैं. नीलम ने THE NEWS NOW से बातचीत में बताया कि किसी ने बड़ी ही सफाई के साथ पैक किये गए कार्टन को खोला है और कीमती कपडे निकाल कर फिर से इसको वैसे ही पैक करने की कोशिश की है जैसा उन्होंने किया था. सामान की जाँच करने के बाद मालूम चला कि इसमें से 5 साड़ियां, 2 शॉल, 2 सूट, 1 डबल बेड शीट, 1 टॉवल, 1 बच्चों का कम्बल, 1 बच्चों की फ्रॉक बॉटम के साथ व अन्य। कुल मिलाकर लगभग 40 हज़ार रूपये का सामान पार्सल में से चोरी किया गया है. 

     जब शिकायत करने गई तो उन्होंने अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है की बात कर किसी भी कार्यवाही से मना कर दिया। पोस्ट ऑफिस में शिकायत करने पर समाचार लिखे जाने तक कोई भी कार्यवाही नहीं हुई थी. इस घटना से सबक ले कर उन्होंने भविष्य में इंडियन स्पीड पोस्ट की सेवायें लेने से मना कर दिया व आम जनता को भी जागरूक रहने के लिए कहा है.       

Popular posts
2,362 करोड़ का ड्रग्स जला देना, अवैध तस्करी के खिलाफ हमारी शीर्ष प्राथमिकता - देवेश चंद्र श्रीवास्तव (DGP, मिजोरम)
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी द्वारा रीजनल कॉलेज फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय कांफ्रेंस से देश में नए इलेक्ट्रॉनिक युग का प्रारंभ होगा - डॉ बी .डी. कल्ला
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
हर किसान का यही पैगाम, खेत को पानी, फसल को दाम - रामपाल जाट