कोरोना के दहशत के बीच भूकंप के तेज झटके से सहमे छत्तीसगढ़ और ओडिशा के लोग

     कोरोना वायरस के दहशत के बीच छत्तीसगढ़ और ओडिशा में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। छत्तीसगढ़ के दक्षिणी हिस्से बस्तर और सुकमा जिलों के कुछ हिस्सों में शनिवार को भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। वहीं, ओडिशा के मलकानगिरी इलाके में भूकंप से लोग समह गए। हालांकि, अभी तक किसी के हताहत होने या संपत्ति को नुकसान की कोई खबर नहीं है।



     छत्तीसगढ़ के मौसम केंद्र के विज्ञानी ने बताया कि आज सुबह करीब 11:15 बजे बस्तर और पड़ोसी सुकमा जिले में 4.2 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप का केंद्र जगदलपुर से 42 किमी दूर दक्षिण-पूर्व में छत्तीसगढ़-ओडिशा सीमा के करीब था।
उन्होंने बताया कि भूकंप के झटके के बाद लोग घबराकर अपने घरों से बाहर निकल गए थे। इधर स्थानीय प्रशासन के अनुसार, अब तक किसी भी तरह के जानमाल की हानि नहीं हुई है। अधिकारियों को स्थिति पर नजर रखने का निर्देश दिया गया है।


   वहीं, वहीं, ओडिशा में भी आज भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। हालांकि, इस भूकंप में किसी तरह के जानमाल की नुकसान की खबर नहीं है। बताया जा रहा है कि भूकंप ओडिशा के मलकानगिरी इलाके में आया। ओडिशा में मल्कानगिरी के जिला कलक्टर मनीष अग्रवाल ने बताया कि राज्य में संपत्ति को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा है लेकिन मल्कानगिरि की कुछ इमारतों में दरार आ गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि भूकंप के झटके खैरापुट और मथिली प्रखंड में महसूस किए गए।