तब्लीगी जमात : 960 विदेशियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई, सभी का वीजा रद्द

     दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात के लोगों के जुटने के मामले में केंद्र सरकार अब सख्त कदम उठा रही है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कानून का उल्लंघन करने वाले 960 विदेशी नागरिकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए दिल्ली पुलिस और अन्य राज्यों के पुलिस महानिदेशकों को निर्देश दिया है। इसी के साथ इन सभी के वीजा भी रद्द कर दिए गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी दी गई है।  



     इससे पहले गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए देशभर में तब्लीगी जमात के सदस्यों और उनके संपर्क में आए करीब 9000 लोगों को अब तक पृथक रखा गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव पुण्य सलिल श्रीवास्तव ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दिल्ली में तब्लीगी जमात के ऐसे करीब 2000 सदस्यों में से 1804 को पृथक (क्वारंटीन) केंद्रों में भेज दिया गया है जबकि लक्षण वाले 334 सदस्यों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

   उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के परिप्रेक्ष्य में तब्लीगी जमात के सदस्यों की पहचान के लिए राज्यों के साथ गृह मंत्रालय के पुरजोर प्रयासों के कारण यह संभव हो सका। निजामुद्दीन मरकज में विदेशियों सहित तब्लीगी जमात के करीब 9 हजार लोग जुटे थे। लॉकडाउन और धारा 144 लागू होने के बावजूद इन लोगों ने मरकज में शिरकत की। बाद में इनमें से की लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। तेलंगाना में छह और दिल्ली में दो जमातियों की मौत भी हुई। इसके अलावा दूसरे राज्यों में भी मरकज से लौटे लोगों में संक्रमण पाया गया। अब पूरे देश में इनकी तलाश हो रही है।