BSF जवानों की हत्या का बदला, सुरक्षा बलों ने मार गिराए 3 आतंकवादी

     जम्मू एवं कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में रविवार को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 3 आतंकवादियों को मार गिराया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, आतंकवादियों के छिपे होने की जानकारी मिलने पर सुरक्षाबलों ने एक तलाशी अभियान चलाया था। इसी तलाशी अभियान के दौरान रविवार को श्रीनगर में उनके और आतंकवादियों के बीच सुबह मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में अभी तक 3 आतंकी मारे गए हैं। इनमें से एक आतंकी पंडच सूरा में हुई बीएसएफ के 2 जवानों की हत्या में शामिल था। इस तरह सुरक्षाबलों ने जवानों की शाहदत का बदला भी ले लिया है।



जवाबी कार्रवाई में मारा गया आतंकी - एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शहर के जूनिमार इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षा बलों ने रविवार सुबह इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल इलाके में आतंकवादियों की तलाश कर रहे थे, तभी आतंकवादियों ने उन पर गोलियां चला दीं। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में 3 आदंकवादी मारे गए हैं।


मोबाइल इंटरनेट सेवाएं सस्पेंड - अधिकारी ने बताया कि प्राधिकारियों ने शहर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं एहतियातन निलंबित कर दी हैं। उन्होंने बताया कि शहर के व्यावसायिक क्षेत्रों के अधिकतर हिस्सों में लोगों के आवागमन पर प्रतिबंध लगाया गया है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों में घाटी में बड़ी संख्या में आतंकी मारे गए हैं। इससे पहले 19 जून यानी कि शुक्रवार को ही घाटी में अलग-अलग जगहों पर सुरक्षाबलों ने 8 आतंकियों का काम तमाम कर दिया था। इस साल अभी तक सुरक्षाबलों की कार्यवाई में 100 से ज्यादा आतंकी ढेर हो चुके हैं।


Popular posts
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image