चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच भारत अमेरिका से खरीदेगा 500 करोड़ का हथियार

     चीन के साथ सीमा पर बढ़ते संघर्ष के बीच केंद्र सरकार ने तीनों सेनाओं को घातक हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए 500 करोड़ रुपये के आपात फंड की मंजूरी दी है. इसके तहत भारत अमेरिका से M777 अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोप के लिए एक्सकैलिबर ऐम्युनिशन खरीदेगा. ये सभी ऑर्डर केंद्र सरकार द्वारा सेना को दिए गए आपातकालीन वित्तीय शक्ति के अंतर्गत दिया गया है.



      केंद्र सरकार की तरफ से तीनों सेना को आपातकालीन स्थिति में बिना कैबिनेट के मंजूरी के हथियार खरीदने का अधिकार दिया गया है. इसके लिए सिर्फ वाइस चीफ की मंजूरी चाहिए होती है. यानी कि तीनों सेना अपनी जरूरत के मुताबिक 500 करोड़ रुपये तक के घातक हथियार खरीद सकती है. रक्षा सूत्रों ने आजतक से बात करते हुए कहा, 'हमलोग अमेरिका से और ज्यादा एक्सकैलिबर ऐम्युनिशन खरीदने वाले हैं.'


     सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख इलाके में अपने जवानों को M777 अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोप के साथ तैनात करना चाहती है. जिससे की सीमा पर चीन को करारा जवाब दिया जा सके. भारत ने बालाकोट ऑपरेशन के बाद मई-जून महीने में भी एक्सकैलिबर ऐम्युनिशन के ऑर्डर दिए थे. सेना के फास्ट ट्रैक प्रोसीजर के तहत इसका अधिग्रहण किया गया था.


Popular posts
2,362 करोड़ का ड्रग्स जला देना, अवैध तस्करी के खिलाफ हमारी शीर्ष प्राथमिकता - देवेश चंद्र श्रीवास्तव (DGP, मिजोरम)
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी द्वारा रीजनल कॉलेज फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय कांफ्रेंस से देश में नए इलेक्ट्रॉनिक युग का प्रारंभ होगा - डॉ बी .डी. कल्ला
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
हर किसान का यही पैगाम, खेत को पानी, फसल को दाम - रामपाल जाट