बड़े बेटे की मौत के बाद पिता ने छोटे बेटे से तय कर दिया विवाह

                                               दूल्हे को देखकर पुलिस भी रह गई हैरान 


     उत्तर प्रदेश के बरेली के उड़ला जागीर में नाबालिग बेटे की बारात ले जाने की तैयारी कर रहे पिता को बिथरी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। लड़के के पिता ने धोखाधड़ी कर फर्जी परमिशन बनवा ली जिसमें उसने 14 साल के बेटे को 21 साल दर्शा दिया। पुलिस ने चार के खिलाफ धोखाधड़ी, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया। 



     बिथरी चैनपुर के हल्का नंबर तीन के एसआई रामवीर सिंह क्षेत्र में गश्त पर थे। उन्हें सूचना मिली की उड़ला जागीर के प्रेमनगर गौटिया में बाल विवाह हो रहा है। वह फौरन पुलिस टीम के साथ वहां पहुंचे। घर में शादी की तैयारी चल रही थीं। पुलिस ने घर के मुखिया ओमकार से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि उनके बेटे की शादी है। पुलिस ने उनके बेटे को बुलाया तो वह हैरान हो गये। दूल्हा 14 साल का था।


     पुलिस ने परमिशन मांगी तो परमिशन देख पुलिस दोबारा हैरान रह गई। ओमकार ने धोखाधड़ी कर बेटे की उम्र परमिशन में 14 की जगह 21 साल लिखाकर नाबालिग से बालिग बना दिया। ओमकार ने बताया कि बेटे की शादी गांव के महेंद्र करा रहे हैं। उन्होंने शादी तय की थी। शादी पहले ओमकार के दूसरे बेटे के लिये तय हुई थी। इस बीच उनके बेटे का देहांत हो गया।


     लड़की वाले शादी छोटे बेटे से कराने का दबाव बना रहे थे। जिस कारण शादी नाबालिग बेटे से कराने की कोशिश चल रही थी। ओमकार ने बताया कि वह बारात लेकर सुभाषनगर के बेहटी गांव जा रहे थे। पुलिस ने पार्वती पत्नी ओमकार, बेटा प्रेमपाल, पत्नी अंगूरा देवी व बिचौलिये महेन्द्र पाल के खिलाफ धोखाधड़ी व  बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने ओमकार को गिरफ्तार किया है।