बेहतर सेवाओं के लिए NHAI का बड़ा फैसला - सड़कों की क्‍वालिटी के आधार पर होगी रैंकिंग



















     सड़कों की क्वालिटी को बेहतर करने के प्रयास के तहत सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अंतर्गत नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने देश के राजमार्गों के परफॉर्मेंस असेसमेंट और इनकी रैकिंग का फैसला किया है. राष्ट्रीय राजमार्गों के ऑडिट और इनकी रैकिंग के जरिए सड़कों की क्वालिटी को बेहतर करने में मदद मिलेगी और इससे हाईवे पर आने-जाने वाले यात्रियों को बेहतर सेवा मिल सकेगी.


     इसके लिए असेसमेंट के मानक अलग-अलग अंतरराष्ट्रीय कार्यप्रणालियों और स्टडीज पर आधारित होंगे जिससे भारत के संबंध में राजमार्गों को और बेहतर बनाया जा सके. असेसमेंट क्राइटेरिया को तीन कैटेगरी में बांटा गया है. इसमें हाईवे की क्षमता (45%), हाईवे की सुरक्षा (35%) और यूजर सर्विसेज (20%), ये सभी बातें शामिल हैं. 


     असेसमेंट के नतीजों के आधार पर अथॉरिटी एक विस्तृत विश्लेषण करेगी और ये तय करेगी कि समग्र रूप से सर्विस को बेहतर बनाने के लिए किस तरह से काम करने की जरूरत है. इसके अलावा ऑपरेटिंग स्पीड, एक्सेस कंट्रोल, टोल प्लाजा पर समय, रोड मार्किंग्स, ए​क्सीडेंट रेट क्रैश बैरियर्स, ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम जैसे मानकों के साथ सफाई, प्लांटेशन और ग्राहकों की संतुष्टि को भी अससमेंट के समय ध्यान में रखा जाएगा. इस असेसमेंट से यात्रियों के लिए सेवाओं को बेहतर बनाने के साथ ही एनएचएआई के दूसरे प्रोजेक्ट्स के डिजाइन, स्टैंडर्ड, कार्यप्रणाली, गाइडलाइन और कॉन्ट्रैक्ट एग्रीमेंट्स को भी सुधारने और इम्प्रूव करने में मदद मिलेगी.


 

 

















 

 

 
















 

 

 

















 

 

 





 









 




 


























 











 


















Popular posts
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image