चीनी ऐप्स पर बैन से हमारे पास बड़ा अवसर, बन सकते हैं मेड इन इंडिया ऐप का हब: रविशंकर

     प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वकांक्षी योजनाओं में शामिल डिजिटल इंडिया मुहिम के आज पांच साल पूरे हो गए हैं. इस मौके पर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी, कम्युनिकेशन और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने डिजिटल इंडिया @5 साल फिल्म, डिजिटल भारत आत्मनिर्भर भारत के 5 साल पर ई-बुक और उमंग फिल्म को लॉन्च किया.


     इस मौके पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि चीनी ऐप्स पर हमने जो प्रतिबंध लगाया है, मुझे लगता है कि यह एक बड़ा अवसर है. क्या हम भारतीयों द्वारा बनाए गए अच्छे ऐप के साथ मार्केट में आ सकते हैं? हमें कई कारणों से अपने एजेंडे पर चलने वाले विदेशी ऐप्स पर निर्भरता को रोकना है.



     केद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत के पास टैलेंट की कमी नहीं है. सरकार की ओर से उन्हें प्रोत्साहन दिया जा रहा है. इसके साथ ही इन टैलेंट को आप (इंफोसिस के नंदन नीलकेणी) जैसे लोगों की मदद की जरूरत है. देश में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशीप की बहुत संभावना है.


    इंफोसिस के नंदन नीलकेणी से अपील करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आप लोग स्टार्टअप, प्रशिक्षित लोगों की यथासंभव मदद करें, ताकि विदेशी ऐप्स पर हमारी निर्भरता खत्म हो सके. चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध बड़ा अवसर देता है कि भारत मेक-इन-इंडिया ऐप्स का हब बने.


Popular posts
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image