इस देश में फैल रही कोरोना से भी घातक बीमारी, चीनी अफसरों का दावा

     पूरी दुनिया कोरोना वायरस की मार झेल रही है. इस बीच कजाकिस्तान में एक और महामारी तेजी से फैलने की खबर है. ये दावा चीन के अधिकारियों ने किया है. एक रिपोर्ट के मुताबिक  चीन के अधिकारियों ने चेतावनी जारी करते हुए बताया है कि कजाकिस्तान में एक नया 'अज्ञात निमोनिया' फैल रहा है जो कोरोना वायरस की तुलना में ज्यादा जानलेवा है.


     रिपोर्ट के अनुसार  इस निमोनिया से मध्य एशियाई देश कजाकिस्तान में इस साल 1,700 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. कजाकिस्तान में चीनी दूतावास ने एक बयान में कहा, 'कजाकिस्तान के स्वास्थ्य विभाग और अन्य एजेंसियां रिसर्च कर रही हैं लेकिन अब तक इस निमोनिया के वायरस को पहचाना नहीं जा सका है.'



     दूतावास का कहना है कि कजाकिस्तान में जून के मध्य से इस अज्ञात निमोनिया के नए मामले काफी बढ़ गए हैं यहां तक कि कुछ स्थानों पर, एक दिन में सैकड़ों नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं. स्थानीय मीडिया का हवाला देते हुए दूतावास ने अपने बयान में कहा कि अब तक अतायरू, अकोतोब और श्यामकेंट के क्षेत्रों में ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है, जहां लगभग 500 नए मामले हैं और 30 से अधिक गंभीर रूप से बीमार हैं.


     चीनी दूतावास के मुताबिक, इस बीमारी से 1,772 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से कुछ चीनी नागरिक भी थे. इनमें से 628 मौतें सिर्फ जून के महीने में हुईं. बयान में कहा गया है, 'यह बीमारी  Covid-19 से कहीं ज्यादा घातक है.' कजाकिस्तान की प्रमुख समाचार एजेंसी कजिनफॉर्म के आंकड़े का हवाला देते हुए बताया गया है कि राजधानी नूरसुल्तान में पिछले साल जून के महीने की तुलना में इस साल के जून के महीने में निमोनिया के मामलों की संख्या दोगुनी हो गई है.


     कजिनफॉर्म के अनुसार नूरसुल्तान हेल्थकेयर विभाग के प्रमुख ने कहा, 'हर दिन 200 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं. पिछले कुछ दिनों से एक दिन में निमोनिया से पीड़ित 300 लोगों को अस्पताल ले जाया जा रहा है. चीनी दूतावास ने प्रभावित क्षेत्र के निवासियों को चेतावनी दी है वो भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचें. इसके अलावा लोगों को मास्क पहनने, स्थानों कीटाणुरहित करने और बार-बार हाथ धोने को भी कहा जा रहा है.