पुलवामा आतंकी हमले में 7वीं गिरफ्तारी, आतंकियों को पनाह देने वाला पकड़ा गया

     पुलवामा आंतकी हमले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को बड़ी सफलता मिली है। एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को जांच एजेंसी ने पुलवामा आतंकी हमले में जम्मू कश्मीर के रहने वाले बिलाल अहमद कुचे को गिरफ्तार किया है। बिलाल अहमद पर पुलवामा आतंकी हमले में अहम भूमिका निभाने का आरोप लगा है। पिछले साल हुए इस आतंकी हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे। राष्ट्रीय जांच एजेंसी की ओर से यह सातवीं गिरफ्तारी है।



     बिलाल ने 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले की योजना बनाने वले आतंकियों के समूह को रसद सहायता प्रदान की थी। इस घटना में आंतकियों ने विस्फोटक से भरी एक वैन को पुलवामा क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग से गुजर रहे सीआरपीएफ के काफिले की गाड़ी में टक्कर मार दी थी जिसमें 40 से अधिक जवान शहीद हो गए थे। 


     एजेंसी अनुसार बिलाल ने जैश-ए-मोहम्मद के आतकवादियों को मोबाइल फोन भी उपलब्ध कराया था जो कि पाकिस्तान स्थित जेईएम के लीडर से बात करने और हमले की योजना को लेकर जानकारी प्रदान करता था। इसके साथ उस मोबाइल फोन का इस्तेमाल फीदायीन आदिल अहमद डार का वीडियो भी दिखाने के लिए किया गया था जो कि हमले के बाद वायरल हुआ था। आदिल अहमद डार वो आतंकी था जिसने कार को सीआरपीएफ के काफिल में टक्कर मारी थी।


     बिलाल पुलवामा मामले में गिरफ्तार होने वाले सातवें व्यक्ति हैं। पिछले गुरुवार को एनआईए ने एक बडगाम निवासी मोहम्मद इकबाल राथर (25) को गिरफ्तार किया था, जो जेएमएम के परिवहन मॉड्यूल का सदस्य था, जिसने हमले से पहले फरवरी 2019 में सीमा से कश्मीर तक आतंकवादियों की घुसपैठ कराई थी। इसके अलावा बाकी पांच आरोपियों की गिरफ्तारी इस साल की शुरुआत गिरफ्तार किया था। जिसमें एक लड़की भी शामिल है।


Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image