सीमा पर पहुंचे सेना प्रमुख नरवणे, घुसपैठ और संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान को चेताया

     सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने सोमवार को जम्मू में पाकिस्तान सीमा पर तैनात सैनिकों के ऑपरेशनल तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान को घुसपैठ की कोशिश और संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर चेताया और जीरो टॉलरेंस की नीति को दोहराया। इस दौरान वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें सीमा के हालात का ब्योरा दिया।



     सेना प्रमुख ने पाकिस्तान के छद्म युद्ध के खिलाफ तैयारियों के बारे में कहा, ''सरकार और सर्विसेज की सभी एजेंसियां दुश्मनों के छद्म युद्ध को नाकाम करने के लिए एक साथ मिलकर काम कर रही हैं और करती रहेंगी।'' उन्होंने देश के दुश्मनों की ओर से किसी भी दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देने और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सेना की क्षमता पर भरोसा जताया।


     रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि सेना प्रमुख ने जम्मू-पठानकोट क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा के अग्रिम इलाकों का भी दौरान किया। उन्होंने राइजिंग स्टार कॉर्प्स के तहत आने वाले कठुआ, सांबा, जम्मू और पठानकोट में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। जम्मू पहुंचने पर वेस्टर्न कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ ले. जनरल आरपी सिंह, राइजिंग स्टार कॉर्प्स के जीओसी ले. जनरल उपेंद्र द्विवेदी, मेजर जनरल वाईबी नायर, टाइगर डिविजन के जीओसी मेजर जनरल वीबी नायर और एयर फोर्स स्टेशन जम्मू के एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर कोमोडोर एएस पठानिया ने सेना प्रमुख का स्वागत किया।  


Popular posts
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image