सुनील गावस्कर के इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए सुपरमैन को जमीं पर आना होगा

"HAPPY BIRTH DAY LEGEND SUNIL GAVASKAR"     


      कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं, जिन्हें रिकॉर्डबुक में जगह नहीं मिलती और जिनकी कोई कैटेगिरी नहीं होती! लेकिन ये रिकॉर्ड इतने अहम होते हैं, जिनके बारे में इस पीढ़ी को जानना बहुत ही जरूरी है. आज अपना 71वां जन्मदिन मना रहे महान सुनील गावस्कर ने भी एक ऐसा ही कारनामा किया, जिसे तोड़ने के लिए वास्तव में सुपरमैन को जमीं पर आना पड़ेगा. एक ऐसा रिकॉर्ड, जिसके बारे में जब भी कोई बल्लेबाज सोचेगा, तो उसके शरीर में सिरहन पैदा हो जाएगी. 



     साल 1971 में 21 साल के सनी गावस्कर ने विंडीज दौरे से अपने करियर की शुरुआत की और पहले ही करियर में विंडीज की क्रिकेट इतिहास की सर्वश्रेष्ठ चौकड़ी के खिलाफ बहादुरी से सामना करते हुए 4 टेस्ट मैचों में 154 के औसत से 774 रन बनाए. और तब से लेकर अब तक कोई भी भारतीय बल्लेबाज इस रिकॉर्ड के नजदीक भी नहीं पहुंच सका है. 


 

     इसी विंडीज के खिलाफ गावस्कर ने अपने करियर में कुल मिलाकर 27 टेस्ट मैचों में 65.45 के औसत से 2749 रन बनाए. इसमें सनी गावस्कर के 13 शतक शामिल रहे. किसी भी टीम के खिलाफ गावस्कर के ये सबसे ज्यादा रन हैं. गावस्कर ने ये तमाम रन और 13 शतक बिना हेलमेट के बनाए. जी हां, दुनिया के सबसे घातक गेंदबाजों वाली टीम के खिलाफ सनी गावस्कर ने यह कारनामा बिना हेलमेट के किया!! रिकॉर्डों की कैटेगिरी में हेलमेट/बिना हेलमेट कोई कैटेगिरी नहीं होती! 


      सनी गावस्कर के इस रिकॉर्ड को बिना हेलमेट के तोड़ने के लिए किसी सुपरमैन को जमीं पर आना पड़ेगा! एक बात तो यह कि डेब्यू टेस्ट में इतने रन बनाना ही बहुत मुश्किल है, तो वहीं दूसरा आज के दौर में बिना हेलमेट के बैटिंग करने की बात ही सोचना एक अकल्पनीय और अविश्वसनीय बात है!!