तिब्बत के मुद्दे पर चीन के साथ अमेरिका की तनातनी बढ़ी - US ने की बड़ी कार्रवाई

     तिब्बत के मुद्दे पर चीन के साथ अमेरिकी की तनातनी बढ़ गई है. अमेरिका ने चीनी कर्मचारियों के वीजा पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान कर दिया है. इसके साथ ही अमेरिका ने तिब्बत की अर्थपूर्ण स्वायत्तता की मांग भी उठाई है. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि वो नए कानून के तहत चीन के कुछ कर्मचारियों पर कार्रवाई कर रहे हैं. अमेरिका का नया कानून वहां के लोगों को तिब्बत जाने की इजाजत देता है.



     पोम्पियो ने कहा है, 'बीजिंग लगातार अमेरिकी डिप्लोमेट और दूसरे कर्मचारियों के तिब्बत जाने पर अड़ंगा लगा रहा है. पत्रकारों और सैलानियों को भी तिब्बत के स्वायत्त क्षेत्र में जाने से रोका जा रहा है. जबकि चीन के नागरिकों का अमेरिका में आसानी से प्रवेश होता है."


     पोम्पियो ने बताया कि वो उन चीनी कर्मचारियों के वीजा पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, जो विदेशियों को तिब्बत जाने से रोकने में शामिल है. हालांकि उन्होंने किसी कर्मचारी का नाम नहीं लिया और अमेरिकी विदेश विभाग ने ये नहीं बताया है कि कितने लोगों पर इसका असर होगा. चीन के मामले में अमेरिका लगातार वीजा प्रतिबंध बढ़ा रहा है. अमेरिका ने  हांगकांग में दंगों के मुद्दे और करीब 10 लाख उइगर और तुर्की मुस्लिमों को कैद किए जाने के मुद्दे पर भी वीजा प्रतिबंध लगाया था. तिब्बत के मामले में अमेरिका में 2018 में एक कानून पारित किया गया था, जिसका मकसद तिब्बत में प्रतिबंधों को लेकर चीन पर दबाव बनाना है.


Popular posts
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image