सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाने हेतु देश में चौथी शक्ति के उद्भव की तैयारी कर रही है प्रस्तावित नेताजी सुभाष पार्टी - अजीत सिन्हा

     राँची । प्रस्तावित नेताजी सुभाष पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक, सह प्रवक्ता ने आज देश की स्तिथि और परिस्तिथियों पर प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अपनी चिंता प्रकट करते हुए कहा कि इस समय देश में एक चौथी शक्ति का उद्भव होना जरूरी है क्योंकि सशक्त विपक्ष विहीन देश में स्वस्थ राजनीति की कल्पना नहीं की जा सकती है क्योंकि इस समय देश में प्रमुख विपक्षी दल काँग्रेस अपनी प्रतिष्ठा और गौरव खो चुकी है और देश की राष्ट्र भक्त जनता यह नहीं चाहती कि देश के गौरव को हाशिये पर ले जाने वाली पार्टी काँग्रेस पुनः सत्तासीन हो। परिवर्तन संसार का नियम है. एक न एक दिन वर्तमान सरकार भाजपा भी सत्ताविहिन होगी, तो उस समय देश को एक नये राष्ट्रवादी दल की जरूरत होगी जो सही मायनों में जनता की हितैषी हो और इस हेतु ही प्रस्तावित नेताजी सुभाष पार्टी की नींव डाली जा रही है. इस हेतु राष्ट्र भक्तों की टोली प्रयत्नशील रहकर अनवरत कार्य कर रही है।

(अजीत सिन्हा)

     आगे अजीत सिन्हा ने कहा कि जिस तरह से आज प्रमुख विपक्षी दल की स्तिथि हो गई है और वह अपनी विपक्ष की भूमिका को ठीक ढंग से नहीं निभा रही है. पूरा देश उन पर हँस रहा है, इससे लगता है कि देश विपक्ष विहीन हो जायेगा। उससे देश में निरंकुशता का  जन्म होगा। देश को इस स्तिथि से उबरने हेतु राष्ट्र में एक चौथी शक्ति का उद्भव होना जरूरी है. देश में कई पार्टियां हैं लेकिन अभी तक उनमें से कोई भी पार्टी ऐसी छवि नहीं बना पाई है कि सकारात्मक राजनीति की भूमिका निभा सके. देश की व्यवस्था को सुचारू रूप से से चलाने में अपना  योगदान दे सके।

     प्रस्तावित नेताजी सुभाष पार्टी राष्ट्र भक्तों की ऐसी पार्टी होगी जो सकारात्मक विपक्ष की भूमिका तो निभाएगी ही, साथ में राष्ट्र की आमूल - चूल व्यवस्था के परिवर्तन हेतु अपना महत्तवपूर्ण योगदान देगी। पार्टी बदलाव से समाधान की ओर अग्रसर रहकर अपने राज धर्म को निभाएगी। इस हेतु जिन्हें भी राष्ट्र भक्तों की टोली में शामिल होनी हो वे #8271555713 पर पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अजीत सिन्हा से संपर्क कर सकते हैं। जय हिंद।

Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image