रेलवे के बाद उड़ानों पर सरकार का बड़ा फैसला - बंद रहेंगी इंटरनेशनल फ्लाइट्स

     कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स को लेकर बड़ा फैसला लिया है. जानकारी के मुताबिक, 15 जुलाई तक इंटरनेशनल फ्लाइट्स सेवा पर रोक लगी रहेगी. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने शुक्रवार को कहा कि वह देश में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों का निलंबन (रद्द) 15 जुलाई तक बढ़ा रहा है लेकिन चुनिंदा मार्गों पर कुछ अंतरराष्ट्रीय सेवाओं की अनुमति स्थिति के आधार पर दी जा सकती है.



     भारत में कोरोना वायरस महामारी के कारण 23 मार्च को अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाएं निलंबित कर दी गयी थीं. डीजीसीए की ओर से जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, ' विभाग ने यह फैसला किया है कि भारत से अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक यात्री सेवाओं की आवाजाही 15 जुलाई, 2020 को रात 11.59 बजे तक निलंबित रहेगी.' इसमें कहा गया है, 'हालांकि, स्थितियों के आधार पर चुनिंदा मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों की अनुमति दी जा सकती है.'


     एयर इंडिया और अन्य निजी घरेलू एयरलाइन्स वंदे भारत मिशन के तहत अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन कर रही हैं. केंद्र सरकार ने विदेशों में फंसे हुए भारतीयों को लाने और यहां अटके विदेशियों को उनके देश पहुंचाने के लिए छह मई को मिशन की शुरुआत की थी. भारत ने दो महीने के अंतराल के बाद 25 मई से घरेलू यात्री उड़ान सेवाओं को बहाल किया था.