लेह में अपाचे, T-90 टैंक की तैनाती से भड़का चीन, ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दी धमकी

     भारत के सख्‍त रुख के बाद गलवान घाटी से तंबू उखाड़ने वाले चीन का सरकारी मीडिया भारत के लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर अपाचे और टी-90 टैंक की तैनाती से भड़क गया है। चीन के सरकारी प्रोपेगैंडा अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने धमकी दी है कि अगर भारत ने कोई उकसावे वाली कार्रवाई की तो हम अब भी पूरी तरह से तैयार हैं। उसने कहा कि भारत का जवाब देने के लिए पीएलए ने तिब्‍बत के ऊंचाई वाले इलाकों में कई अत्‍याधुनिक हथियार तैनात किए हैं।


(Photo - भारत के टी-90 टैंक और अपाचे से भड़का चीन)



     ग्‍लोबल टाइम्‍स ने यह भी आरोप लगाया कि भारत लगातार सेना को जुटा रहा है और युद्धाभ्‍यास कर रहा है। चीनी अखबार ने कहा कि पीएलए ने मल्टिपल रॉकेट लॉन्‍चर, तोपें, एंटी टैंक मिसाइल, एंटी एयरक्राफ्ट गन, हल्‍के टैंक और अटैक हेलीकॉप्‍टर अपनी उत्‍तर पश्चिमी सीमा में तैनात किए हैं। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा कि ये हथियार खास तौर पर ऊंचाई वाले इलाकों में लड़ाई के लिए तैयार किए गए हैं।

भारत ने अपाचे लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर तैनात किए - चीनी अखबार ने कहा कि भारत ने हाल ही में अपने अग्रिम मोर्चों पर अपाचे लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर तैनात किए हैं। इसके अलावा भारत ने गलवान घाटी में टी-90 टैंक तैनात किए हैं। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कथित सैन्‍य विशेषज्ञों के हवाले से दावा किया कि पीएलए के हथियार ऊंचाई वाले इलाकों में युद्ध के लिए बहुत उपयोगी हैं। उसने कहा कि चीनी हथियार भारत के हथियारों को तबाह कर सकते हैं।

     ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा क‍ि भारत के साथ तनाव घटाने पर भले ही सहमति बन गई हो लेकिन चीनी सेना भारत के किसी भी उकसावे वाली कार्रवाई का जवाब देने को तैयार है। बता दें कि पूर्वी लद्दाख में करीब 3 हफ्ते तक सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति के बाद आखिरकार चीन की ओर से सकारात्मक कदम उठते दिखाई दे रहे हैं। लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से एक ओर चीनी नेता शांति की बात कर रहे थे, तो दूसरी ओर चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) अपनी मजबूती बढ़ाती जा रही थी।


Popular posts
गंगा हरीतिमा एवं सरयू संरक्षण महाअभियान वन विभाग और समाजसेवीयों द्वारा सरयू आरती के साथ वृक्षारोपण, पितृ दिवस पर संपन्न हुआ
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को फुटबॉल नहीं बनावे बल्कि सिंचाई प्रधान बनाने के लिए केन्द्र व राज्य मिलकर काम करें
Image