पंजाब सरकार ने माता-पिता को दी बड़ी राहत, सरकारी स्कूल नहीं लेंगे फीस

     जहां एक ओर पैरेंट्स कोरोना वायरस के दौरान स्कूलों की फीस बढ़ने से परेशान हैं. वहीं पंजाब सरकार ने माता-पिता, छात्रों को राहत दी है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को घोषणा की कि राज्य के सरकारी स्कूल COVID संकट के कारण 2020-21 के शैक्षणिक सत्र के लिए छात्रों से कोई एडमिशन, री- एडमिशन और ट्यूशन फीस नहीं लेंगे.



     जहां तक ​​प्राइवेट स्कूलों की ओर से लिए ली जाने वाली फीस का सवाल है, राज्य सरकार ने पहले ही अदालत का रुख कर लिया है, मुख्यमंत्री ने ओपन स्कूल प्रणाली में 31,000 10वीं कक्षा के छात्रों को 11वीं कक्षा में प्रमोट किया है. ये फैसला कोरोना वायरस के कारण लिया गया.


     मुख्यमंत्री ने कल #AskCaptain के संस्करण के दौरान ये घोषणाएं कीं. उन्होंने कक्षा 12वीं में 98 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले 335 छात्रों में से प्रत्येक को 5,100 रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है." उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि अगर कोई स्कूल नियमों का उल्लंघन करता है तो उस कड़ी सजा भुगतनी होगी.