प्रतिबंध के बाद भी दीपावाली पर खूब फूटे पटाखे

उत्तर प्रदेश संवाददाता (राहुल वैश्य)

      इस बार दीपावली पर वायु प्रदूषण को देखते हुए उत्तर प्रदेश के 13 जिलों में पटाखे फोड़ने पर पूरी तरह प्रतिबंध था लेकिन इसके बाद भी काफी लोगो ने दीपवाली पर खूब पटाखे फोड़े जिससे वायु प्रदूषण और भी ज्यादा जहरीला हो गया और सांस के मरीजों का काफी परेशानी पैदा हुई गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उन 13 जिलों में पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया था जहां वायु प्रदूषण का एक्यूआई का स्तर काफी खराब था लेकिन जिन जिलों का वायु प्रदूषण इंडेक्स 200 से नीचे था वहां सिर्फ ग्रीन पटाखे फोड़ने की अनुमति थी।

     कल उत्तर प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के कारण शीतकालीन वर्षा हुई जिससे प्रदेश में शीत लहर में और इजाफा हो गया हैं लेकिन इस शीतकालीन वर्षा ने किसानों की परेशानी को भी बढ़ा दिया है क्योंकि खेतों में कटी पड़ी धान की फसल भीग चुकी है जिससे किसानों का काफी नुकसान हुआ है हलांकि इस वर्षा से वायु प्रदूषण में आम जन को कुछ राहत अवश्य मिली है ।

(Photo - केदारनाथ बाबा की डोली के साथ प्रस्थान करते उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ)



     इधर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड में स्थित धामों के दर्शन के लिए गए हैं । उन्होंने केदारनाथ कपाट बंद होने से पहले वहां बाबा के दर्शन किए साथ ही कपाट बंद होने के बाद बाबा की डोली के साथ रवाना हुए । गौरतलब है कि इन दिनों पश्चिमी विक्षोभ के कारण समूचे उत्तर भारत में मौसम बदल चुका है जिसका असर पहाड़ी इलाकों पर भी देखने के लिए मिल रहा है । इस समय पहाड़ी इलाकों में बर्फवारी हो रही है यदि मौसम ठीक रहा तब उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बद्रीनाथ धाम के दर्शन के लिए आज प्रस्थान करेंगे ।

     अपर मुख्य सचिव सूचना, नवनीत सहगल ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण घट चुका है लेकिन जाँच में कोई कमी नही की जा रही है । प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर लगभग 94 प्रतिशत तक हो चुकी है ।
Popular posts
2,362 करोड़ का ड्रग्स जला देना, अवैध तस्करी के खिलाफ हमारी शीर्ष प्राथमिकता - देवेश चंद्र श्रीवास्तव (DGP, मिजोरम)
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में नंवे अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन
Image
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ERCP को सिंचाई आधारित परियोजना बनाते हुए केंद्र एवं राज्य मिलकर काम करें - रामपाल जाट
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी द्वारा रीजनल कॉलेज फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय कांफ्रेंस से देश में नए इलेक्ट्रॉनिक युग का प्रारंभ होगा - डॉ बी .डी. कल्ला
Image
यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं रीजनल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय नवी अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन होगा